IPS लांडे के कार्रवाई से डरते थे माफिया और नेता, दबाव देकर कराया था ट्रांसफर

ips

पटना. बिहार के चर्चित आईपीएस ऑफिसर शिवदीप लांडे एक बार फिर चर्चा में है। इस बार चर्चा का कारण उनका रोहतास से ट्रांसफर करने पर आई आईबी की रिपोर्ट को लेकर है।


आईबी की रिपोर्ट के अनुसार खनन माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने से नाराज माफिया , पुलिस अफसर और नेताओं ने सरकार पर दबाव देकर तत्कालीन रोहतास एसपी शिवदीप लांडे का ट्रांसफर करा दिया था। आईबी ने अपनी जांच रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को सौंप दी है। रिपोर्ट आने के बाद सरकार पर ही सवाल उठने लगे है।

आईबी की रिपोर्ट के अनुसार
– रोहतास के पहाड़ी इलाकों में बड़े पैमाने पर अवैध खनन का काम किया जाता है।
– पुलिस, राजनेता व माफियाओं के गठजोड़ से अवैध खनन किया जाता है।
– लांडे के रहते हुए वहां यह काम रुक गया था।
– इसी से परेशान माफियाओं ने सरकार पर दबाव बनाकर लांडे का ट्रांसफर करा दिया।
– जीतन राम मांझी ने सीएम बनने पर कार्रवाई के लिए रोहतास एसपी के पद पर शिवदीप लांडे को भेजा था।
– जीतन राम मांझी के सरकार जाते ही नीतीश सरकार ने ट्रांसफर कर दिया।
– आरोप यह भी है कि ट्रांसफर के बाद शंटिंग पोस्ट पर भेज दिया गया।
– फिलहाल शिवदीप लांडे एसटीएफ में है।

रोहतास में क्या किया था एसपी ने
शिवदीप लांडे ने रोहतास एसपी रहने के दौरान खनन माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाया था।
– अभियान में अवैध तरीके से चलाये जा रहे सैकड़ों क्रशर मशीनों को तोड़ा गया था ।
– कार्रवाई से नाराज होकर माफिया करा देते थे पुलिस पर फायरिंग और पथराव ।
– कार्रवाई के दौरान शिवदीप लांडे खुद जेसीबी लेकर तोड़े थे क्रशर मशीन
– अवैध गिट्टी लगे सैकड़ों ट्रकों और ट्रैक्टरों को किया था जब्त

जिस जगह पर एसपी करते है बड़ी कार्रवाई तो होता जाता है ट्रांसफर
– शिवदीप लांडे पटना में भी सिटी एसपी रह चुके है।
– पटना में चल रहे कई सेक्स रैकेट का खुलासा किया था और कई लोगों को गिरफ्तार किया था।
– लड़कियों के शिकायत पर स्कूल-कॉलेज के पास चक्कर लगाने वाले आवारा लड़कों पर कार्रवाई करते थे
– पटना में एक बड़े स्टोर में छापेमारी कर नकली समान बेचने का किया था खुलासा।
– इसके बाद एक बड़े नेता के दबाव में लांडे का ट्रांसफर कर दिया गया था।
– अररिया में एसपी रहने के दौरान कई आर्केस्ट्रा में काम करने वाले कई नाबालिग लड़कियों को छुड़ाया था।
– हाथी दांत के तस्कर को पकड़ा था।

Source: Bhaskar.com

Advertisements
This entry was posted in Latest. Bookmark the permalink.

Thanks to follow this web site

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s