अमेरिका-चीन में बिकेंगे बिहार के सहकारी उत्पाद

bihar-co-oprtv-14-03-2016-1457966029_storyimage.jpg

सरकार किसानों के साथ मिलकर राज्य में कोऑपरेटिव खेती शुरू करेगी। इसके तहत किसानों के समूह बनाकर आधुनिक खेती की जाएगी। प्रदेश के दो-तीन क्षेत्रों को चिह्नित किया गया है। वहां सब्जी और हल्दी आदि की जैविक खेती करने की योजना है। योजना सिरे चढ़ी तो बिहार के किसानों के उत्पाद चीन और अमेरिका के बाजार में बिकेंगे। राज्य में यदि 50-100 कोऑपरेटिव बन गए तो ब्रिटेन, कनाडा और आस्ट्रेलिया के बाजारों में कृषि उत्पादों का निर्यात होने लगेगा।

सहकारिता विभाग के बजट पर सरकार के जवाब के दौरान यह जानकारी मंत्री आलोक कुमार मेहता ने सोमवार को विधानसभा में दी। इस दौरान भाजपा सदस्यों ने जमकर टोका-टोकी की। अंतत: पांच मिनट पहले नेता विपक्ष प्रेम कुमार ने सरकार द्वारा बोनस की घोषणा नहीं करने, 25 फीसदी भी धान नहीं खरीदने और किसानों द्वारा बिचौलियों को धान बेचने को मजबूर होने का आरोप लगाते हुए भाजपा सदस्यों के साथ सदन से बहिर्गमन किया।

इसके पहले माले सदस्यों ने भी ‘सहकारिता में भ्रष्टाचार बंद करो’ और ‘किसानों को धोखा देना बंद करो’ के नारे लगाते हुए सदन से वाकआउट किया।

हर जिले में बनेगा सहकार भवन
विपक्ष की अनुपस्थिति के बीच ही सदन में वर्ष 2016-17 के लिए विभाग का 670 करोड़ का बजट ध्वनिमत से पास किया गया। मंत्री ने कहा कि इसके साथ ही सरकार हर जिले में सहकार भवन खोलेगी। इसके भूतल पर सहकारी समितियों द्वारा उत्पादित सामग्री की बिक्री एवं प्रदर्शनी के स्टाल बनाए जाएंगे। प्रथम तल पर सहकारी बैंक और दूसरे तल पर विभाग के विभिन्न कार्यालय संचालित होंगे। सबसे ऊपरी तल पर प्रशिक्षण एवं सभा के लिए ऑडिटोरियम का निर्माण किया जाएगा।

श्री मेहता ने कहा कि सरकार गैसीफायर आधारित चावल मिलों की संख्या बढ़ाने के साथ ही धान खरीद से लेकर चावल बनाने तक के चक्र (साइकिल) की अवधि एक-डेढ़ माह से घटाकर 15 से 18 दिन करने पर विचार कर रही है। तब एसएफसी पैक्सों को भुगतान जल्द कर सकेंगे। मंत्री ने कहा कि बिहार में 80 लाख क्विंटल धान होता है। यदि इस पूरे की खरीद हो जाए और चावल बने तो न सिर्फ यहां बल्कि कई दूसरे राज्यों के पीडीएस अनाज की जरूरतों को बिहार पूरा कर सकेगा।

सचीन्द्र प्रसाद सिंह ने कटौती प्रस्ताव पेश किया। बहस में मुंद्रिका सिंह यादव, पूनम पासवान, लक्ष्मेश्वर राय, ललन पासवान, मेवालाल चौधरी, मनोज कुमार, सिद्धार्थ सिंह, सुदामा प्रसाद, शक्ति सिंह यादव, विद्यासागर केशरी, नंद कुमार राय और विजय कुमार खेमका ने हिस्सा लिया।

Source: Livehindustan.com

This entry was posted in Latest. Bookmark the permalink.

Thanks to follow this web site

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s